रोहित गोदारा, बीकानेर के गैंगस्टर रोहित गोदारा की कहानी

बीकानेर के गैंगस्टर रोहित गोदारा की कहानी जिसके पीछे चार बॉडीगार्ड सुरक्षा में रहते है


0
154
rohit godara bikaner gansgeter


राजस्थान जो की वीरों की भूमि कहलाती है अब दिन-ब-दिन अपराधों का एक नया अड्डा बनती जा रही है। एक कहावत भी है की एक अपराधी को मारोगे तो 100 नये अपराधी जन्म लेंगे यह कहावत भी आज राजस्थान में सटीक बेठ रही है। पूरे राजस्थान का कोई जिला इस अपराध से अछूता नहीं रहा है हर जिले में कोई न कोई अपराध का चेहरा उभर रहा है। ऐसे में यह कहना बेवकूफी ही होगा की राजस्थान में अपराध कम हुए है।

आज की कहानी उस अपराधी चेहरे की जो राजस्थान के उत्तर-पश्चिम में इतनी तेजी से पैर पसार रहा है की पुलिस भी उसे रोक नहीं पा रही है।

जिला बीकानेर थाना कालू का हार्डकोर क्रिमिनल हिस्ट्रीशीटर रोहित गोदारा यही वह गैंगस्टर है जो 2010 से लगातार अपराधी दरवाजे पर दस्तक दे रहा है। 19 साल की उम्र से जुर्म के रास्ते पर चलने वाला रोहित गोदारा 15 बार जेल की हवा खा चुका है बावजूद इसके उसके अपराधों की डोर टूटी नहीं है। रोहित गोदारा बीकानेर के कालू के कपुरीसर गांव का निवासी है।

रोहित गोदारा खुद की गैंग का लीडर है और साथ ही दो अन्य गैंग “मोनू गैंग” और “गुठली गैंग” को भी ऑपरेट करता है। इसके साथ ही गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के लिए भी रोहित गोदारा काम करता है। इतनी गैंगो से संपर्क मतलब साफ है रोहित गोदारा कितना शातिर और खतरनाक है। इस बात का प्रूफ यह भी है की रोहित गोदारा रंगदारी और फिरौती के लिए बेखौफ गोलियां चलवा देता है। दूसरा प्रूफ यह है की जब रोहित गोदारा जेल में बंद था तब जेल से बीकानेर के एक व्यापारी और भाजपा नेता के एक रिश्तेदार पर भी रंगदारी के लिए गोलियां चलवाई थी।

rohit godara gangster bikaner
फोटो – बीकानेर का गैंगस्टर रोहित गोदारा

इनके अलावा सरदारशहर की सरपंच मगनी देवी के देवर भीमराज की गोली मारकर हत्या रोहित गोदारा ने ही करवाई थी। रोहित गोदारा के बारे में जो खास बात है वो यह है की यह वारदात को अंजाम देने के लिए खुद नहीं जाता पहले अपने गुर्गों को आगे भेजता है और फोन पर जानकारी लेता है अगर वहां पुलिस आई तो रोहित गोदारा नहीं पकड़ा जाएगा बल्कि गैंग के सदस्य ही पुलिस के हाथ लगेंगे। दूसरी खास बात यह है की रोहित गोदारा ने दिल्ली की प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी से चार बॉडीगार्ड खुद की सुरक्षा के लिए लगा रखे है जिन्हे 40-40 हजार रुपये मासिक वेतन देता है।

रोहित गोदारा के खिलाफ 2010 में पहला मुकदमा हत्या का दर्ज हुआ था जिसके बाद रोहित गोदारा का विवाद पत्नी से भी हो गया। फिर पत्नी ने 2012 में रोहित गोदारा के खिलाफ दहेज का मुकदमा महिला थाने में दर्ज करा दिया।

पिछले दिनों रोहित गोदारा ने जयपुर के एक व्यापारी से भी 17 करोड़ की रंगदारी मांगी थी। यह रंगदारी व्हाट्सप्प के जरिए मांगी फिर व्यापारी ने पुलिस को सूचित किया और जयपुर पुलिस ने व्यापारियों से कहा की रोहित गोदारा किसी से भी पैसा मांगे तो तुरंत पुलिस को सूचित करे। यहां चौकानें वाली बात यह है की इस गंदे खेल में कई पुलिस अधिकारी और राजनेता भी शामिल थे।

!!समाप्त!!

उन सवालों के जवाब जिन्हे आप बीकानेर के गैंगस्टर रोहित गोदारा के बारे में जानना चाहते है? 
  • रोहित गोदारा का जीवन परिचय ( Rohit Godara Biography )

बीकानेर के कपूरिसर गांव का रोहित गोदारा हार्डकोर अपराधी है जिस पर अलग अलग थानों में कई मुकदमे दर्ज है।

  • रोहित गोदारा कौन है? ( Rohit Godara Kaun Hai )

रोहित गोदारा एक गैंगस्टर है जिसका नाम सिददु मूसेवाला हत्याकांड के वक्त भी चर्चा में आया था।

  • रोहित गोदारा गैंगस्टर कहां का है?

रोहित गोदारा गैंगस्टर बीकानेर जिले कपूरिसर गांव का है।

  • रोहित गोदारा गैंगस्टर किस गैंग है?

रोहित गोदारा लॉरेंस बिश्नोई गैंग का सदस्य है।

The parent of one of the boys arrested did not respond to a request for comment in time for publication. How to spot fake news : be an informed citizen in the digital age.