Search for:
  • Home/
  • Uncategorized/
  • बंगाल में महिला को सड़क पर पीटा, बाल पकड़कर खींचा:BJP बोली- मारने वाला TMC विधायक का करीबी, ये उसके ‘तत्काल न्याय’ देने का तरीका

बंगाल में महिला को सड़क पर पीटा, बाल पकड़कर खींचा:BJP बोली- मारने वाला TMC विधायक का करीबी, ये उसके ‘तत्काल न्याय’ देने का तरीका

पश्चिम बंगाल में चार दिन में दूसरी बार महिला से मारपीट और बदसलूकी की घटना सामने आई है। रविवार (30 जून) को उत्तरी दिनाजपुर जिले के चोपड़ा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है, जिसमें एक व्यक्ति दो लोगों- एक महिला और एक पुरुष को सड़क पर छड़ी से पीटता हुए नजर आ रहा है। व्यक्ति महिला को कई बार मारता है। वह दर्द में चिल्लाती है, लेकिन व्यक्ति मारना नहीं छोड़ता। इसके बाद वह व्यक्ति महिला के पास बैठे पुरुष की ओर मुड़ता है और उसे मारना शुरू कर देता है। इस दौरान भीड़ तमाशा देखती रहती है, कोई भी महिला और पुरुष को बचाने आगे नहीं आता। वीडियो में एक जगह वह व्यक्ति महिला के बाल पकड़कर उसे लात मारता है। इसे वीडियो को लेकर राज्य की ममता सरकार पर विपक्ष हमलावर है। भाजपा और CPI(M) के नेताओं ने इस वीडियो को लेकर दावा किया है कि पिटाई करने वाला शख्स तृणमूल कांग्रेस का नेता ताजेमुल हैं, जो स्थानीय विवादों पर ‘तत्काल न्याय’ देने के लिए जाना जाता है। इसके पहले 27 जून को भाजपा ने TMC पर आरोप लगाया था कि कूचबिहार जिले में पार्टी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ की महिला पदाधिकारी रोसोनारा खातून को घर से खींचकर सड़क पर घसीटा गया और नंगा कर पीटा गया। TMC के गुंडों ने गोखसदांगा में उनकी पिटाई की और सार्वजनिक रूप से उनके कपड़े फाड़ दिए। घटना की तस्वीरें… मारपीट की वजह साफ नहीं, पुलिस ने केस दर्ज किया
इस घटना को लेकर स्थानीय पुलिस ने कहा है कि उन्होंने पिटाई करने वाले व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया है और आरोपी की तलाश की जा रही है। आरोपी ने महिला-पुरुष के साथ मारपीट कब और क्यों की, इसके बारे में भी जानकारी नहीं है। वहीं, तृणमूल सरकार ने इस वीडियो और विपक्षी नेताओं की तरफ से लगे आरोपों को लेकर प्रतिक्रिया नहीं दी है। अमित मालवीय बोले- राज्य में शरीया अदालतें चल रही हैं
BJP IT सेल हेड और बंगाल के सह-प्रभारी अमित मालवीय ने X पर एक पोस्ट में कहा, ‘वीडियो में जो व्यक्ति महिला को बेरहमी से पीट रहा है, वह ताजेमुल है। वह अपनी ‘इंसाफ’ सभा के माध्यम से तुरंत न्याय देने के लिए जाना जाता है और चोपड़ा के विधायक हमिदुर रहमान का करीबी सहयोगी है। मालवीय ने यह भी कहा कि भारत को अब TMC की सरकार वाले पश्चिम बंगाल में शरीयत अदालतों की असलियत को देख लेना चाहिए। हर गांव में एक संदेशखली है और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी महिलाओं के लिए अभिशाप बन गई हैं। बंगाल में कानून-व्यवस्था का नामो-निशान नहीं है। क्या ममता बनर्जी इस राक्षस के खिलाफ कार्रवाई करेंगी या शेख शाहजहां की तरह उसे भी बचाएंगी? CPI(M) नेता बोले- तृणमूल के गुंडे खुद सुनवाई कर सजा दे रहे
CPI(M) के राज्य सचिव और पूर्व सांसद मोहम्मद सलीम ने इस वीडियो को शेयर कर लिखा कि यह कंगारू कॉर्ट से भी बदतर है। तृणमूल कांग्रेस का गुंडा, जिसे JCB के नाम से जाना जाता है, वह खुद मौके पर सुनवाई करके सजा दे देता है। यह ममता के शासन में चोपड़ा में ‘बुलडोजर न्याय’ का उदाहरण है। सलीम ने यह भी कहा कि जिसने वीडियो शूट किया था उसे अब उसके घर से निकाल दिया गया है। चोपड़ा में बंगाल पुलिस की निगरानी में तृणमूल ऐसे शासन कर रही है। मोहम्मद सलीम ने कहा कि ताजेमुल स्थानीय लेफ्ट नेता मंसूर आलम की हत्या के मामले में भी आरोपी है। 27 जून को भाजपा नेता के कपड़े फाड़ कर पानी में डुबाया गया कूच बिहार में बदसलूकी का शिकार हुई भाजपा महिला नेता को एमजेएन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पीड़ित महिला ने बताया- TMC की महिलाओं ने उन्हें नंगा कर दिया और पानी में डुबाने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि अगर TMC में नहीं शामिल हुई तो और प्रताड़ित किया जाएगा। मैं बेहोश हुई तो छोड़ दिया गया। पुलिस आरोपियों पर कार्रवाई नहीं कर रही। पूरी खबर यहां पढ़ें… यह खबर भी पढ़ें… बंगाल गवर्नर ने ममता के खिलाफ मानहानि का मुकदमा किया: कहा- उन्होंने गलत टिप्पणी की देश में पहली बार राज्यपाल ने सीएम पर मानहानि का केस किया है। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल सीवी आनंद बोस ने शुक्रवार को सीएम ममता बनर्जी और टीएमसी के कुछ नेताओं के खिलाफ कलकत्ता हाई कोर्ट में यह केस किया। एक दिन पहले ममता ने कहा था कि महिलाओं ने उनसे शिकायत की है कि वे राजभवन की गतिविधियों की वजह से वहां जाने से डरती हैं। राज्यपाल-सीएम में लंबे समय से खींचतान चल रही है। पूरी खबर पढ़ें…

Leave A Comment

All fields marked with an asterisk (*) are required