Search for:
  • Home/
  • Uncategorized/
  • जून में सामान्य से 11% कम बारिश:गुजरात में भारी बारिश से कई शहरों में जलभराव; लोनावला में बांध के पानी में पांच लोग बहे

जून में सामान्य से 11% कम बारिश:गुजरात में भारी बारिश से कई शहरों में जलभराव; लोनावला में बांध के पानी में पांच लोग बहे

देश में मानसून की एंट्री हुए एक महीना पूरा हो गया है। मानसून देश के सभी राज्यों में पहुंच गया है और अगले तीन दिन में इसके राजस्थान, पंजाब और हरियाणा के बाकी हिस्से को कवर करने का अनुमान है। बीते 30 दिन में देश में सामान्य से 11% कम बारिश हुई है। हालांकि अब देशभर में भारी बारिश हो रही है। रविवार को महाराष्ट्र, बिहार, राजस्थान, गुजरात, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश समेत कई अन्य राज्यों में भारी बारिश हुई। वहीं उत्तरपूर्वी अरब सागर में चक्रवाती सर्कुलेशन बनने से गुजरात में भारी बारिश हो रही है। सूरत, भुज, वापी, भरूच और अहमदाबाद में जलभराव की स्थिति बन गई। राज्य में अगले चार दिन ऐसे ही बारिश होने वाली है। इधर, रविवार दोपहर पुणे के पास लोनावला में एक ही परिवार के पांच लोग भुशी डैम के पानी में बह गए। इनमें एक महिला, 13 साल की लड़की, 6 साल की 2 बच्चियां और 4 साल का एक लड़का शामिल था। इनमें से महिला और दो बच्चों की बॉडी बरामद हुई है। रविवार को भुशी डैम में बड़ी संख्या में पर्यटक घूमने गए थे, जहां बांध का पानी पहले से ही ओवरफ्लो हो रहा था। पानी का बहाव तेज होने से पांचों लोग इसमें बह गए। उनके शव करीब दो किमी दूर बरामद हुए। तीन शव मिलने के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन को रोक दिया गया। सोमवार सुबह रेस्क्यू फिर शुरू किया जाएगा। IMD के मुताबिक सोमवार को पूरे देश में हल्की से भारी बारिश होगी। देश के 25 राज्यों में अगले पांच दिन के लिए भारी से अति भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इसमें राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल, पंजाब, हरियाणा, गुजरात, महाराष्ट्र, दिल्ली, बिहार, झारखंड, दक्षिणी राज्य और पूर्वोत्तर राज्य शामिल हैं। दिल्ली में बारिश के चलते जान गंवाने वालों के परिवार को 10 लाख रुपए मुआवजा
दिल्ली की मंत्री आतिशी ने रविवार को ऐलान किया कि 28 जून को हुई भारी बारिश के कारण हुए जलभराव में डूबने की वजह से जिन लोगों की जान गई है, उनके परिवारों को 10 लाख रुपए मुआवजा दिया जाएगा। शुक्रवार को दिल्ली में मानसून के पहले दिन 228.1 मिमी बारिश हुई, जिसकी वजह से पूरी दिल्ली में जलभराव हो गया था। इसके चलते 11 लोगों की मौत की जानकारी सामने आई है। दिल्ली में अगले दो दिन भारी बारिश की चेतावनी है। इसके चलते जलभराव न हो इसके लिए सिविक बॉडीज ने मैनपावर बढ़ाने और इक्विपमेंट लगाने शुरू कर दिए हैं। देश में लगातार तीसरे साल सामान्य से कम बारिश
दो-तीन दिनों से देश के अलग-अलग हिस्सों में मूसलाधार बारिश से बीते गुरुवार (27 जून) तक जून में बारिश की जो 19% कमी थी, वह रविवार (30 जून) को घटकर 11% रह गई। 29 जून तक सामान्यत: 165.3mm बारिश होनी चाहिए, लेकिन 147.2mm बारिश हुई है। यह तीसरा वर्ष होगा, जब जून में सामान्य से कम बारिश दर्ज हुई है। 10 वर्षों में ऐसा चार बार ही हुआ है कि बारिश सामान्य से ज्यादा हुई है। मौसम की तस्वीरें… मानसून कहां-कहां पहुंचा
दक्षिण-पश्चिम मानसून निकोबार में 19 मई को पहुंच गया था। केरल में इस बार दो दिन पहले, यानी 30 मई को मानसून पहुंचा। इसी दिन नॉर्थ-ईस्ट राज्यों को भी कवर कर लिया। फिर 12 से 18 जून तक (6 दिन) मानसून रुका रहा। 6 जून को मानसून ने महाराष्ट्र में एंट्री ली और 11 जून को गुजरात में दाखिल हुआ। मानसून 12 जून तक केरल, कर्नाटक, गोवा, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना को पूरी तरह कवर कर चुका था। साथ ही दक्षिण महाराष्ट्र के ज्यादातर हिस्सों, दक्षिणी छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, दक्षिणी ओडिशा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और सभी पश्चिमोत्तर राज्यों में पहुंच गया था। 18 जून तक मानसून महाराष्ट्र के जलगांव, अमरावती, चंद्रपुर, छत्तीसगढ़ के बीजापुर, सुकमा, ओडिशा के मलकानगिरी और आंध्र प्रदेश के विजयनगरम तक पहुंचा था। हालांकि, इसके बाद मानसून रुका रहा। 21 जून को मानसून डिंडौरी के रास्ते मध्य प्रदेश पहुंचा और 23 जून को गुजरात में आगे बढ़ा। राजस्थान में मानसून ने 25 जून को एंट्री ली और मध्य प्रदेश के आधे के ज्यादा क्षेत्र को कवर कर लिया। 25 जून की ही रात मानूसन ललितपुर के रास्ते उत्तर प्रदेश में दाखिल हुआ। 26 जून को मानसून MP और UP में आगे बढ़ा। 27 जून को मानसून उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और उत्तरी पंजाब में दाखिल हुआ। 28 जून को मानसून ने दिल्ली और हरियाणा में एंट्री ली। 30 जून तक मानसून ने तकरीबन पूरे देश को कवर कर लिया है। राजस्थान, हरियाणा और पंजाब का कुछ हिस्सा ही बाकी है। अगले तीन दिन में यहां भी मानसून पहुंचने का अनुमान है। मौसम विभाग का अनुमान है कि जून में मानसून सामान्य से कम यानी 92% लंबी अवधि के औसत (LPA) से कम रहेगा। आगे कैसा रहेगा मौसम… अब राज्यों के मौसम का हाल पढ़िए… राजस्थान: चार जिलों में आज भारी बारिश का अलर्ट, जैसलमेर को छोड़कर पूरे राज्य में होगी बरसात, 3 जुलाई तक चेतावनी राजस्थान में मानसून सक्रिय है। शनिवार (29 जून) को धौलपुर, भरतपुर में 6 इंच तक बरसात हुई। इनके अलावा बीकानेर, नागौर, चूरू में भी जमकर बारिश हुई। जयपुर में देर शाम तेज बारिश से सड़कों पर पानी भर गया। मौसम विभाग ने रविवार (30 जून) को जयपुर, अलवर, दौसा और भरतपुर में अतिभारी बारिश होने का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। वहीं, सात जिलों में भारी बारिश का यलो अलर्ट है। पूरी खबर पढ़ें… मध्य प्रदेश: भोपाल-ग्वालियर समेत 17 जिलों में आज भारी बारिश, इंदौर-उज्जैन में आंधी के साथ पानी गिरेगा​​​​​​ मध्य प्रदेश में बारिश का स्ट्रॉन्ग सिस्टम एक्टिव है। भोपाल, ग्वालियर और जबलपुर समेत 17 जिलों में रविवार (30 जून) को तेज बारिश का अलर्ट है। इंदौर-उज्जैन में भी बरसात होगी। इससे पहले शनिवार (29 जून) को भोपाल, इंदौर, उज्जैन समेत 25 से ज्यादा जिलों में बारिश हुई। पूरी खबर पढ़ें… बिहार: 26 जिलों में आज बारिश की संभावना, 6 जिलों में बारिश-बिजली का अलर्ट, पटना के कई इलाकों में पानी भरा बिहार के 26 जिलों में रविवार (30 जून) को बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने औरंगाबाद, अरवल, रोहतास, भोजपुर, बक्सर और कैमूर में बारिश को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। आकाशीय बिजली गिरने की भी आशंका जताई गई है। पटना, रोहतास, किशनगंज, आरा, बक्सर और सीवान में शनिवार (29 जून) को झमाझम बारिश हुई। पटना में 1 घंटे तेज बारिश हुई। इससे कई जगहों पर पानी भर गया। पूरी खबर पढ़ें… हिमाचल प्रदेश: अगले 3 दिन भारी बारिश की चेतावनी, 72 घंटे के लिए ऑरेंज अलर्ट; 5 जुलाई तक खराब मौसम की संभावना हिमाचल प्रदेश में रविवार (30 जून) से लगातार तीन दिन तक भारी बारिश का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग ने आज चार जिलों, सोमवार (1 जुलाई) को आठ जिलों और मंगलवार (2 जुलाई) को तीन जिलों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। प्रदेश में पांच जुलाई तक बारिश से राहत के आसार नहीं है। पूरी खबर पढ़ें… पंजाब: 9 जिलों में बारिश का ऑरेंज अलर्ट, अन्य में यलो अलर्ट जारी; राज्य में इस महीने 48% कम बारिश पंजाब में बारिश को लेकर 9 जिलों में रविवार (30 जून) को ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। अन्य सभी जिलों में यलो अलर्ट जारी किया गया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने आज और 1 जुलाई को पंजाब के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। अगले 2-3 दिनों तक आंधी-तूफान के साथ बारिश जारी रहने की उम्मीद है। पूरी खबर पढ़ें… चंडीगढ़: अगले 48 घंटों में मानसून पहुंचने के आसार, तेज बारिश का अलर्ट; तापमान 1.9 डिग्री बढ़ा चंडीगढ़ के लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिलने वाली है। मौसम विभाग ने 48 घंटों में चंडीगढ़ में मानसून पहुंचने की उम्मीद जताई है। इसको लेकर तेज बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इससे पहले 27 जून तक मानसून पहुंचने की उम्मीद थी। अब तक बारिश न होने से तापमान में 1.9 डिग्री की बढ़ोतरी हुई है। शनिवार (29 जून) को अधिकतम तापमान 39.2 डिग्री दर्ज किया है, जो कि सामान्य से 2.9 डिग्री अधिक है। पूरी खबर पढ़ें… झारखंड ​​​​​​: 8 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, पश्चिमी सिंहभूम में बिजली गिरने से 3 बच्चे घायल; झारखंड में जून में 54.3mmबारिश झारखंड में मानसून अब पूरी तरह से एक्टिव हो गया है। राज्य के सभी जिलों में रविवार (30 जून) सुबह से ही बादल छाए हुए है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे के भीतर रांची समेत 8 जिलों में भारी बारिश का यलो अलर्ट जारी किया है। शनिवार (29 जून) को जामताड़ा, पलामू समेत कई जिलों में तेज बारिश हुई। पलामू में पेड़ पर बिजली गिरने से आग लग गई। पश्चिमी सिंहभूम में बिजली गिरने से तीन बच्चे घायल हो गए। झारखंड में जून में 54.3mm बारिश दर्ज की गई है। पूरी खबर पढ़ें…

Leave A Comment

All fields marked with an asterisk (*) are required