Search for:
  • Home/
  • Uncategorized/
  • PM मोदी आज ‘मन की बात’ करेंगे:नई सरकार के एजेंडे पर चर्चा कर सकते हैं; इससे पहले फरवरी में प्रोग्राम हुआ था

PM मोदी आज ‘मन की बात’ करेंगे:नई सरकार के एजेंडे पर चर्चा कर सकते हैं; इससे पहले फरवरी में प्रोग्राम हुआ था

लोकसभा चुनाव में जीत के बाद आज पहली बार ‘मन की बात’ कार्यक्रम का 111वां एपिसोड आयोजित होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नई सरकार के एजेंडे पर चर्चा कर सकते हैं। दिल्ली के अलग-अलग जगहों पर भाजपा नेता मन की बात कार्यक्रम सुनेगें। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा, वीरेंद्र सचदेवा, बांसुरी स्वराज कर्नाटक संघ सभागार में कार्यक्रम सुनेंगे। इससे पहले फरवरी में प्रोग्राम हुआ था। तब PM मोदी ने कहा था कि राजनीतिक मर्यादा का पालन करते हुए लोकसभा चुनाव के इन दिनों में तीन महीने ‘मन की बात’ का प्रसारण नहीं होगा। पीएम ने कहा था कि मन की बात रुक रहा है, देश की उपलब्धियां नहीं रुक रहीं। 11 विदेशी भाषाओं में भी होता है मन की बात का ब्रॉडकॉस्ट
मन की बात को 22 भारतीय भाषाओं और 29 बोलियों के अलावा 11 विदेशी भाषाओं में भी ब्रॉडकॉस्ट किया जाता है। इनमें फ्रेंच, चीनी, इंडोनेशियाई, तिब्बती, बर्मी, बलूची, अरबी, पश्तू, फारसी, दारी और स्वाहिली शामिल हैं। मन की बात की ब्रॉडकास्टिंग आकाशवाणी के 500 से अधिक ब्रॉडकास्टिंग सेंटर द्वारा किया जाता है। 2014 में पहला मन की बात एपिसोड प्रसारित हुआ था
मन की बात का पहला एपिसोड 3 अक्‍टूबर 2014 को प्रसारित हुआ था। पहले एपिसोड की टाइम लिमिट 14 मिनट थी। जून 2015 में इसे बढ़ाकर 30 मिनट कर दिया गया था। 30 अप्रैल 2023 को मन की बात का 100वां एपिसोड प्रसारित किया गया था। मन की बात कार्यक्रम का प्रसारण 23 भाषाओं और 29 बोलियों में होता है। फ्रेंच, पश्‍तो, चाइनीज समेत इसका ब्रॉडकास्‍ट 11 विदेशी भाषाओं में भी किया जाता है। 110वें एपिसोड में PM ने नारी-शक्ति के योगदान पर बात की थी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेडियो प्रोग्राम मन की बात के 110वें एपिसोड में नारी-शक्ति के योगदान को नमन किया था। पीएम ने कहा था कि महाकवि भारतियार जी ने कहा है कि विश्व तभी समृद्ध होगा, जब महिलाओं को समान अवसर मिलेंगे। आज भारत की नारी-शक्ति हर क्षेत्र में प्रगति की नई ऊंचाइयों को छू रही है। उन्होंने एपिसोड में ड्रोन दीदी से बात की। पीएम ने कहा था कि कुछ साल पहले तक किसने सोचा था कि हमारे देश में, गांव में रहने वाली महिलाएं भी ड्रोन उड़ाएंगी! लेकिन आज ये संभव हो रहा है। आज तो गांव-गांव में ड्रोन दीदी की इतनी चर्चा हो रही है, हर किसी की जुबान पर नमो ड्रोन दीदी, नमो ड्रोन दीदी ये चल पड़ा है। हर कोई इनके विषय में चर्चा कर रहा है। पूरी खबर पढ़ें … 109वें एपिसोड में गणतंत्र दिवस परेड में नारी शक्ति की चर्चा की थी मोदी मन की बात के 109वें एपिसोड की शुरुआत गणतंत्र दिवस के जश्न को लेकर की थी। पीएम ने कहा कि दो दिन पहले हम सभी देशवासियों ने 75वां गणतंत्र दिवस बहुत धूमधाम से मनाया है। इस साल हमारे संविधान के भी 75 वर्ष हो रहे हैं और सुप्रीम कोर्ट के भी 75 वर्ष हो रहे हैं। हमारे लोकतंत्र के ये पर्व, लोकतंत्र की जननी के रूप में भारत को और सशक्त बनाते हैं। इसके अलावा पीएम ने 22 जनवरी को अयोध्या के राम मंदिर में रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा पर भी बात की थी। राममला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर पीएम ने कहा कि अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर ने देश के करोड़ों लोगों को मानो एक सूत्र में बांध दिया है। सबकी भावना एक, सबकी भक्ति एक, सबकी बातों में राम, सबके हृदय में राम हैं। 22 जनवरी की शाम को पूरे देश ने रामज्योति जलाई, दिवाली मनाई। पूरी खबर पढ़ें… 108वें एपिसोड में PM ने मेंटल-फिजिकल हेल्थ पर जोर दिया था
PM मोदी ने मन की बात के 108वें एपिसोड पर फिट इंडिया अभियान पर चर्चा की थी। उन्होंने चेस ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद, एक्टर अक्षय कुमार और क्रिकेटर हरमनप्रीत कौर से मेंटल और फिजिकल हेल्थ की टिप्स सुनवाईं। इसके बाद मोदी ने फिट इंडिया, फिजिकल हेल्थ, मेंटल हेल्थ और न्यूट्रीशिन को लेकर लंबी चर्चा की। मोदी ने आखिर में भगवान श्रीराम के भजन को सोशल मीडिया पर शेयर करने की अपील की। उन्होंने कहा- हैशटेग श्रीराम भजन के साथ लोग अपनी रचनाएं शेयर करें। इससे देश के सभी लोग राममय हो जाएंगे। पूरी खबर यहां पढ़ें… मन की बात कार्यक्रम से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें… 100 करोड़ लोग सुन चुके मोदी के मन की बात; 23 करोड़ लोग इसके रेगुलर लिसनर्स, IIM रोहतक की स्टडी​ PM नरेंद्र मोदी के लोकप्रिय कार्यक्रम ‘मन की बात’ को देश के 100 करोड़ लोग कम से कम एक बार सुन चुके हैं। 23 करोड़ लोग नियमित रूप से ‘मन की बात’ को सुनते हैं। दरअसल IIM रोहतक ने ‘मन की बात’ को लेकर एक स्टडी की है। यह स्टडी प्रसार भारती ने कराई है। पूरी खबर पढ़ें… PM ने कहा था- भारत का मिशन चंद्रयान, नारी शक्ति का भी जीवंत उदाहरण पीएम ने चंद्रयान मिशन को लेकर कहा था – साथियों, आपको याद होगा इस बार मैंने लाल किले से कहा है कि हमें महिलाओं के नेतृत्व में डेवलपमेंट को राष्ट्रीय चरित्र के रूप में सशक्त करना है। भारत का मिशन चंद्रयान, नारीशक्ति का भी जीवंत उदाहरण है। पूरी खबर पढ़ें…

Leave A Comment

All fields marked with an asterisk (*) are required