Search for:
  • Home/
  • Uncategorized/
  • राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा आज:लोकसभा में BJP नेता अनुराग ठाकुर तो राज्यसभा में सुधांशु त्रिवेदी शुरुआत कर सकते हैं

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा आज:लोकसभा में BJP नेता अनुराग ठाकुर तो राज्यसभा में सुधांशु त्रिवेदी शुरुआत कर सकते हैं

18वीं लोकसभा के पहले सत्र का आज यानी 28 जून को पांचवां दिन है। राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर आज से चर्चा की शुरुआत हो रही है। न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, लोकसभा में भाजपा नेता और पूर्व मंत्री अनुराग ठाकुर लोकसभा में चर्चा की शुरुआत कर सकते हैं। लोकसभा में धन्यवाद प्रस्ताव पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2 जुलाई को जवाब दे सकते हैं। वहीं, राज्यसभा में धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा की शुरुआत भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी कर सकते हैं। उच्च सदन में पीएम मोदी 3 जुलाई को चर्जा का जवाब दे सकते हैं। इस सत्र में पहली बार राहुल गांधी विपक्ष के नेता (LoP) के तौर पर भाषण देंगे। सत्र में विपक्ष पेपर लीक, अग्निवीर और एग्जिट पोल से शेयर बाजार में उथल-पुथल जैसे मुद्दे उठाकर सरकार को घेर सकता है। 24 जून से शुरू हुआ सत्र 3 जुलाई तक चलेगा। लोकसभा में बीते 4 दिन में क्या हुआ 24-25 जून: सांसदों ने शपथ ली, मोदी के शपथ लेते वक्त राहुल ने संविधान की प्रति दिखाई
18वीं लोकसभा का 24 जून सोमवार को पहला दिन रहा। 24 और 25 जून को सांसदों को शपथ दिलाई गई। पीएम नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले सांसद पद की शपथ ली। विपक्ष संविधान की कॉपी लेकर संसद पहुंचा। मोदी के शपथ लेते वक्त राहुल ने भी हाथ उठाकर संविधान की प्रति दिखाई। सत्र शुरू होने के पहले मोदी ने 14 मिनट 28 सेकेंड के भाषण में इमरजेंसी, नए संसद भवन, नए सांसदों, जिम्मेदार विपक्ष, तीसरे कार्यकाल, विकसित भारत पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि भारत के लोकतंत्र और लोकतांत्रिक परंपराओं की रक्षा करते हुए देशवासी संकल्प लेंगे कि भारत में फिर कभी कोई ऐसी हिम्मत नहीं करेगा, जो 50 साल पहले की गई थी। वहीं, विपक्षी सांसदों ने भर्तृहरि महताब को प्रोटेम स्पीकर बनाए जाने पर विरोध-प्रदर्शन किया। सांसदों ने संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने संविधान की कॉपी लहराई और संविधान बचाओ के नारे लगाए। 26 जून: बिरला लोकसभा अध्यक्ष, राहुल गांधी विपक्ष के नेता बने
ओम बिरला लगातार दूसरी बार लोकसभा के स्पीकर चुने गए। बुधवार, 26 जून को सदन की कार्यवाही शुरू होते ही प्रोटेम स्पीकर भतृर्हरि महताब ने स्पीकर के चुनाव की घोषणा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिरला के नाम का प्रस्ताव रखा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत NDA के नेताओं ने समर्थन किया। सदन में ध्वनिमत से बिरला के नाम का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया गया। इसके बाद PM मोदी और विपक्ष के नेता राहुल गांधी उन्हें चेयर तक छोड़ने आए। वहीं, 18वीं लोकसभा में राहुल गांधी विपक्ष के नेता होंगे। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के आवास पर इंडिया गठबंधन के नेताओं की बैठक के बाद इसकी घोषणा की गई। राहुल अपने 20 साल के पॉलिटिकल करियर में पहली बार कोई संवैधानिक पद संभालेंगे। वे इस पद पर रहने वाले गांधी परिवार के तीसरे सदस्य होंगे। इससे पहले उनके पिता और पूर्व PM राजीव गांधी 1989-90 और मां सोनिया 1999 से 2004 तक इस पद पर रह चुकी हैं। 27 जून: राष्ट्रपति का अभिभाषण
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने 50 मिनट के अभिभाषण में पेपर लीक, महिलाओं, युवाओं, किसानों, गरीबों के बारे में बात की। उन्होंने कहा- पेपर लीक करने वालों को कड़ी सजा दिलाई जाएगी। उन्होंने सेना को आत्मनिर्भर बनाने की तैयारियां भी बताईं। नॉर्थ-ईस्ट में शांति के लिए सरकार के प्रयासों का भी जिक्र किया। राष्ट्रपति ने कहा- अगले बजट सत्र में बड़े फैसले लिए जाएंगे। उन्होंने आपातकाल को संविधान पर सीधा हमला बताया, यह भी कहा- देश ने इस हमले से उबरकर दिखाया।

Leave A Comment

All fields marked with an asterisk (*) are required